Class 11 Hindi Aroh NCERT Solutions for Chapter 19 (Updated for 2021-22)

NCERT Solutions For Class 11 Hindi Aroh Chapter 19

NCERT Solutions for Class 11 Hindi Aroh Chapter 19 2021 is a valuable resource that can assist students in improving their grades. It has been observed that students are having trouble acquiring Hindi content and comprehending the meaning of deep poetry and cryptic phrases now that they are no longer used.

Download Free PDF for NCERT Solutions for Class 11 Hindi Aroh Chapter 19

Class 11 Hindi Aroh NCERT Solutions for Chapter 19

 


Students require assistance with the subject in order to gain a better knowledge of their course. Professionals and experienced teachers have meticulously developed NCERT Solutions For Class 11 Hindi Aroh Chapter 19 answers. The solutions have been meticulously constructed, topic by topic, in the manner in which they are intended to be written in exams.

NCERT Solutions for Class 11 Hindi Aroh Chapter 19: Overview

Sabse Khatarnak

NCERT Solutions For Class 11 Hindi Aroh chapter 19 for class 11 is a poetry-based chapter authored by ‘’Avtar Singh Sandhu (Pash),” a well-known Punjabi poet in post-independence India. Through the title word “Sabse Khatarnak,” which means the most dangerous, the writer has emphasised his views on people’s daily problems.

The most dangerous, in his opinion, is not the physical problems we face, but the emotional pain we go through, the stagnant existence we have become, and the daily struggle of not doing something unethical simply because there is a nice price to be received.

According to the poet, being beaten by officers is horrible enough, being unable to do anything despite knowing that the other person is guilty is bad enough, and studying in the moonlight is bad enough but not the worst. Worst of all is the death of our dreams and the inability to fight back. The most dangerous is the watch on your wrist that is working but for you, the time has stopped, the eye that is unable to wish to see the world with love and keeps you on a goalless road. The death of your soul’s sun, and a bit of its soulless beams being pierced to the west of your body, is the most perilous.

The poet discusses the emotional state of people that we don’t notice because we’re all on our own journeys that we don’t know if they have any real goals or not.

Access NCERT Solutions For Class 11 Hindi Aroh Chapter 19

कविता के साथ


प्रश्न 1:कवि ने किस आशय से मेहनत की लूट, पुलिस की मार, गद्दारी-लोभ को सबसे खतरनाक नहीं माना।

उत्तर –
कवि ने मेहनत की लूट, पुलिस की मार, गद्दारी लोभ को सबसे खतरनाक नहीं माना क्योंकि इन तीनों में मीन में आशा व उम्मीद की किरण बची रहती है। इनका प्रभाव सीमित होता है। इन क्रियाओं में प्रतिरोधक क्षमता बनी रहती है। इन स्थितियों को बदला जा सकता है। जिस समाज में पारस्परिक सौहाद्र, प्रेम, दया, करुणा आदि भावनाएँ समाप्त हो जाएंगी, वह मृत हो जाएगा।

प्रश्न 2: ‘सबसे खतरनाक’ शब्द के बार-बार दोहराए जाने से कविता में क्या असर पैदा हुआ?

उत्तर –
‘सबसे खतरनाक’ शब्द के बार-बार, दोहराए जाने से पाठकों का ध्यान खतरनाक बातों की तरफ अधिक आकर्षित होता है। वे समाज की स्थितियों पर गंभीरता से विचार करते हैं। यह शब्द उस विभीषिका की ओर संकेत करता है जो समाज को निर्जीव कर रही है। इसके बार-बार प्रयोग से कथ्य प्रभावशाली ढंग से व्यक्त हुआ है।

प्रश्न 3:कवि ने कविता में कई बातों को ‘बुरा है’ न कहकर ‘बुरा तो है’ कहा है। ‘तो’ के प्रयोग से कथन की भंगिमा में क्या बदलाव आया है, स्पष्ट कीजिए।

उत्तर –
कवि ने बैठे बिठाए पकड़े जाना, सहमी चुप में जकड़ने, कपट के शोर में सही होते हुए भी दब जाने आदि को बुरा तो है कहा है। ‘बुरा’ शब्द प्रत्यक्ष आरोप लगाता है, परंतु ‘तो’ लगाने से सारा जोर ‘तो’ पर चला जाता है। इसका अर्थ है। कि स्थितियाँ खराब अवश्य है, परंतु उनमें सुधार की गुंजाइश है। साथ ही, यह चेतावनी भी देता है कि अगर इन्हें नहीं सुधारा गया तो भविष्य में हालात और बिगड़ेंगे।

प्रश्न 4:‘मुर्दा शांति से भर जाना और हमारे सपनों का मर जाना’-इनको सबसे खतरनाक माना गया है। आपकी दृष्टि में इन बातों में परस्पर क्या संगति है और ये क्यों सबसे खतरनाक है?

उत्तर –

‘मुर्दा शांति से भर जाना’ का अर्थ है-निष्क्रिय होना, जड़ हो जाना या प्रतिक्रिया शून्य हो जाना। ऐसी स्थिति बहुत खतरनाक है। ऐसा व्यक्ति सामाजिक अन्याय के खिलाफ संघर्ष नहीं कर पाता। उसके मन में किसी तरह की कोई प्रतिक्रिया नहीं होती। वह जीवित होते हुए भी मृत के समान होता है। ‘हमारे सपनों का मर जाना’ का अर्थ है-कुछ करने की इच्छा समाप्त होना। मनुष्य कल्पना करके ही नए-नए कार्य करता है तथा विकसित होता है। सपनों के मर जाने से हम यथास्थिति को स्वीकार करके स्थिर एवं विचारशून्य हो जाते हैं।

प्रश्न 5: सबसे खतरनाक वह घड़ी होती है/अपनी कलाई पर चलती हुई भी जो/आपकी निगाह में रुकी होती है। इन पंक्तियों में ‘घड़ी’ शब्द की व्यंजना से अवगत कराइए।

उत्तर –
‘घड़ी’ शब्द के दो अर्थ मिलते हैं। पहला अर्थ जीवन से जुड़ा हुआ है। जीवन घड़ी की तरह चलता रहता है। वह कभी नहीं रुकता। मनुष्य की चाह समाप्त होने पर ही वह जड़ हो जाता है। दूसरा अर्थ है-दिनचर्या यदि व्यक्ति समय के अनुसार स्वयं को बाँध लेता है तो वह यांत्रिक हो जाता है। वह ढर्रे पर चलता है। उसके जीवन में नया कुछ करने का अवकाश नहीं होता।

प्रश्न 6: वह चाँद सबसे खतरनाक क्यों होता है, जो हर हत्याकांड के बाद/आपकी आँखों में मिचों की तरह नहीं गड़ता है?

उत्तर –
‘चाँद’ सौंदर्य का प्रतीक है, परंतु हत्याकांड के बाद कोई प्राणी सौंदर्य की कल्पना नहीं कर सकता। हत्या होने पर आम व्यक्ति के मन में आक्रोश उत्पन्न होता है। ऐसी स्थिति में मनुष्य को चाँद आनंद प्रदान करने वाला नहीं लगता। जो लोग ऐसी स्थिति में आनंद लेने की कोशिश करते हैं तो ऐसी संवेदनशून्यता वास्तव में खतरनाक है।

कविता के आस-पास


प्रश्न 1:कवि ने ‘मेहनत की लूट सबसे खतरनाक नहीं होती’, से कविता का आरंभ करके फिर इसी से अंत क्यों किया होगा?

उत्तर –
कवि ने ‘मेहनत की लूट सबसे खतरनाक नहीं होती’ से कविता का आरंभ करके इसी पर अंत किया क्योंकि कवि का ध्येय ‘खतरनाक’ व ‘सबसे खतरनाक’ स्थितियों में अंतर बताना है। कुछ स्थितियाँ खतरनाक होती हैं, परंतु उन्हें सुधारा जा सकता है कुछ दशाएँ कवि ने बताई हैं। यदि वे समाज में आ जाती हैं तो मानवता पर ही प्रश्न चिह्न लग जाता है। ऐसी स्थितियों से समाज को बचना चाहिए।

प्रश्न 2: कवि द्वारा उल्लिखित बातों के अतिरिक्त समाज में अन्य किन बातों को आप खतरनाक मानते हैं?

उत्तर –
कवि द्वारा उल्लिखित बातों के अतिरिक्त हम समाज में निम्नलिखित बातों को खतरनाक मानते हैं

  1. स्त्रियों का अपमान, शोषण तथा फिर उनका मजाक उड़ाना।
  2. संकटग्रस्त मित्र या जानकार की मदद से दूर भागना।
  3. सांप्रदायिकता
  4. आतकवाद
  5. निरर्थक महत्त्वाकाक्षा
  6. देशद्रोह

प्रश्न 3: समाज में मौजूद खतरनाक बातों को समाप्त करने के लिए आपके क्या सुझाव हैं?

उत्तर –
समाज में मौजूद खतरनाक बातों को समाप्त करने के लिए हमारे सुझाव निम्नलिखित हैं

  1. सत्ता शीर्ष को व्यवस्था ठीक करनी चाहिए।
  2. आम आदमी को जागरूक होना होगा।
  3. दुष्ट लोगों का विनाश ही समाधान है।
  4. वैचारिक स्तर में बढ़ोतरी करनी होगी।
  5. समाज को संवेदनशीलता रखनी होगी।

अन्य हल प्रश्न

लघूत्तरात्मक प्रश्न


प्रश्न 1:
‘सबसे खतरनाक’ कविता का प्रतिपाद्य बताइए।

उत्तर –
यह कविता पंजाबी भाषा से अनूदित है। यह दिनोदिन अधिकाधिक नृशंस और क्रूर होती जा रही दुनिया की विदूपताओं के चित्रण के साथ उस खौफनाक स्थिति की ओर इशारा करती है, जहाँ प्रतिकूलता से जूझने के संकल्प क्षीण पड़ते जा रहे हैं। पथरायी आँखों-सी तटस्थता से कवि की असहमति है। कवि इस प्रतिकूलता की तरफ विशेष संकेत करता है जहाँ आत्मा के सवाल बेमानी हो जाते हैं। जड़ स्थितियों को बदलने की प्यास के मर जाने और बेहतर भविष्य के सपनों के गुम हो जाने को कवि सबसे खतरनाक स्थिति मानता है।

प्रश्न 2: सपनों का मर जाना किस प्रकार खतरनाक है?

उत्तर –
सपने जीवन में नए रंग भरते हैं। वे मनुष्य को नया कार्यक्षेत्र देते हैं। जब व्यक्ति के सपने मर जाते हैं तो उसके जीवन का उद्देश्य समाप्त हो जाता है। बिना उद्देश्य के कोई जीवन नहीं होता। इस तरह सपनों के मर जाने से व्यक्ति का अस्तित्व ही समाप्त हो जाता है। यह स्थिति जीवन के लिए कभी अच्छी नहीं होती।

प्रश्न 3: कवि ने किन-किन स्थितियों को बुरा बताया है?

उत्तर –
कवि ने निम्नलिखित स्थितियों को बुरा बताया है

  1. मेहनत की लूट होना
  2. पुलिस की मार पड़ना
  3. बिना किसी दोष के गिरफ्तारी
  4. डर से चुप होना
  5. सही आवाज का दब जाना
  6. विवशता से आक्रोश की दवा कर समय काटतें जाना;

प्रश्न 4: कवि ने वे कौन-कौन सी स्थितियाँ बताई हैं जो सबसे खतरनाक हैं?

उत्तर –
कवि ने निम्नलिखित स्थितियों को सबसे खतरनाक बताया है

  1. मुर्दे जैसी शांति का भर जाना।
  2. सपनों का मर जाना।
  3. तड़पकर अन्याय को सहन करना।
  4. घड़ी का एक बिंदु पर ठहरना।
  5. अन्याय देखकर संवेदनहीन होना।
  6. ढरें पर जिंदगी चलना।
  7. अत्याचार का आँखों में न गड़ना।

Access Other Chapters of NCERT Solutions For Class 11 Hindi Aroh

You can download the PDF of NCERT Solutions For Class 11 Hindi Aroh other chapters:

We have provided all the important above in the article regarding the CBSE NCERT Solutions for Class 11 Hindi Aroh Chapter 19. If you have any queries, you can mention them in the comment section.

FAQ (Frequently Asked Questions): NCERT Solutions for Class 11 Hindi Aroh Chapter 19

In the Poem ‘Sabse Khatarnak’, What is the Poet Trying to Say?

The poet is attempting to explain his sentiments about who they have become as humans. He is alluding to the physical challenges or agony that we go through in life as severe enough but not the worst in this poetry, which translates to The Most Dangerous. The death of a person’s soul and the yearning to love, he claims, are the most harmful. Life has become stagnant as a result of repeating the same routines, such as going to work and returning home, and the aimless trip that we are on. He’s referring to the current emotional state of people who have forgotten how to live life properly.

What Should One Learn From this Poem?

This poetry makes one reflect on how life while appearing to be smooth and happening, is essentially a farce.

How Kopykiatb Helps the Student by Giving NCERT Solutions of Class 11th Hindi Chapter 19 ‘’ Paash’’?

We provide chapter-by-chapter solutions for class 11th Hindi, and we strive to summarise the material in simple ways so that students may comprehend it.
It focuses on a point-by-point discussion of problems and answers, making it easy to understand.
All of the students’ doubts are addressed, and they are prepared to slay in the tests.
The poem’s summary is described in simple terms, along with the definitions of the words.

Where can I get NCERT Solutions For Class 11 Hindi Aroh Chapter 19 free PDF?

You can get NCERT Solutions For Class 11 Hindi Aroh Chapter 19 free PDF from the above article.

Leave a Comment